करसोग के ग्वालपुर में अचानक बोलेरो से टकराया तेंदुआ, चालक और तेंदुआ दोनो गम्भीर रूप से घायल।
October 2nd, 2019 | Post by :- | 263 Views

मंडी,करसोग(मोहन शर्मा):- करसोग के ग्वालपुर और अशला रोड में बलेरो कैम्पर से तेंदुए के टकराने से वाहन चालक और तेंदुआ गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों को इलाज के लिए शिमला रेफर किया गया है। पुलिस ने मौके पर जाकर केस दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक सोमवार देर बलेरो कैम्पर ग्वालपुर से अशला की ओर आ रही थी अचानक शकवा के समीप तेंदुए के आने से गाड़ी अनियन्त्रित होकर 100 मीटर गहरी खाई में गिर गई। इस दौरान तेंदुए के सिर में भी गहरी चोट आई है। हालांकि आईजीएमसी रेफर किए जाने से पुलिस चालक निशांत पुत्र वीर सिंह गांव चलाह का बयान दर्ज नहीं कर पाई है और न ही मौके का कोई चश्मदीद गवाह न होने के कारण पुलिस ने प्रथम दृष्टि में अभी लापरवाही से गाड़ी चलाए जाने का केस दर्ज किया है। लेकिन जिस जगह पर गाड़ी अनियन्त्रित होकर पलटी है ठीक उससे करीब 15 फीट की दूरी पर तेंदुआ भी बेहोशी की हालत में सड़क पर पाया गया। इसके सिर में गहरी चोटें आई है। इस कारण तेंदुए के गाड़ी से टकराए जाने का अंदेशा जताया जा रहा है। तेंदुए की उम्र 3 साल बताई जा रही है। गंभीर हालत होने के कारण तेंदुए को टूटीकंडी के लिए रेफर किया गया है। जहां उसका उपचार चल रहा है। जिस जगह हादसा हुआ यहां 10 फीट

फारेस्ट और पशुपालन विभाग की टीम भी पहुंची मौके पर:
तेंदुए के जख्मी होने की सूचना मिलने के बाद वन विभाग और पशुपालन विभाग की टीमें भी मौके पर पहुंची। यहां से तेंदुए की पिजरे में डाल कर करसोग स्थित वेटनरी हॉस्पिटल लाया गया। यहां प्राथमिक उपचार देने के बाद तेंदुए को पहले वाइल्ड लाइफ के ऑफिस सनारली लाया गया। इसके बाद भी तेंदुए के होश में न आने से इसको उपचार के लिए शिमला स्थित टूटीकंडी में चिड़ियाघर के लिए रेफर किया गया। रेंज ऑफिसर गुरदास राम का कहना है कि तेंदुए को पिंजरे में डालकर ले जाया गया।

दिनभर चलती रही चर्चा:
तेंदुए के गाड़ी से टकराने की सूचना के बाद करसोग में दिनभर हादसे को लेकर तरह तरह की चर्चा चलती रही। अचानक से तेंदुए के गाड़ी के आगे आने के कारण लोग दहशत में भी है। करसोग में कई बार तेंदुए के अचानक गाड़ी के आगे आने के मामले सामने आ रहे है, लेकिन इस तरह का कोई हादसा अभी इलाके में नहीं हुआ था। पुलिस ने चालक की लापरवाही पाए जाने पर आइपीसी की धारा 279 व 337 के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। डीएसपी करसोग अरुण मोदी ने मामले की पुष्टि की है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।