शहर में हो रही दूर्षित पेयजल आपूर्ति, लोग पानी खरीदकर पीने को मजबूर |
September 30th, 2019 | Post by :- | 109 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :-  स्थानीय पेयजल विभाग होडल की लापरवाही के चलते शहर के कई वार्डों पर कालोनियों में दूषित पेयजल आपूर्ति हो रही है। शहर के लोगों ने कई बार विभागीय अधिकारियों से इसकी शिकायत की है, लेकिन इस समस्या की ओर से विभागीय अधिकारी पूरी तरह से मौन हैं। इस दूषित पेजयल आपूर्ति के कारण लोगों को पानी खरीदकर अपनी प्यास बुझानी पड रही है। पानी से उठती बदवू के कारण लोगों का घरों में रहना मुश्किल हो गया है लोगों को हमेशा बीमारी फैलने का खतरा मंडराता रहता है। विभाग की इस ओर अनदेखी के चलते शहर के लोगों में विभाग के प्रति रोष व्याप्त है।

पेयजल विभाग की लापरवाही के चलते पिछले कई दिनों से शहर की जैन कालोनी, तेलीबाडा मौहल्ला, गढिया बाजार, ताली मंडी, पुरानी अनाज मंडी, बाइसी मौहल्ला के अलावा अन्य कालोनियों में पिछले कई दिनों से दूषित पानी की आपूर्ति हो रही है। घरों में लगे नलों से पीने के लिए कीचड से युक्त पानी आ रहा है। इसके अलावा पानी में से उठती बदवू ने लोगों का घरों में रहना मुश्किल किया हुआ है। शहर निवासी गुलशन गर्ग, कुलदीप, नरेश जैन, संजय, हरीश, राजेश, राहुल के अलावा अन्य लोगों को कहना है कि उनके घरों में पिछले कई दिनों से दूषित पानी की आपूर्ति हो रही है। उन्होंने कहा कि घरों में पीने के लिए आने वाले पानी में से इतनी ज्यादा बदवू उठती है जैसे कोई नाली में से पानी आ रहा है।

उन्होंने कहा कि घरों में आने वाला पानी पीने के बिल्कुल भी योग्य नहीं है, अगर कोई गलती से उस पानी को पी ले तो उसेे अस्पताल में ही भर्ती होना पडेगा। इसके अलावा उनके घरों में हो रही इस दूर्षित पेयजल आपूर्ति के कारण हमेशा बीमारी फैलने का खतरा मंडराता रहता है। शहर वासियों का कहना है कि उनके घरों में दूषित पेयजल आपूर्ति होने के कारण उन्हें मजबूरी में बाजार से बीस से तीस रुपये की पानी की कैन खरीदकर अपनी प्यास बुझा रहे हैं। उनका कहना है कि उन्होंने कई बार पेयजल विभाग के अधिकारियों से इस दूषित पेयजल आपूर्ति की शिकायत की है, लेकिन विभाग इस समस्या की ओर ध्यान देने के बजाय उल्टा ही यह कहकर टालमटोल कर देता है कि आपकी ही पाइप लाइन कहीं से लीकेज हैं। शहर के लोगों में पेयजल विभाग के प्रति भारी रोष व्याप्त है।
क्या कहते हैं जेई :- इस मामले में पेयजल विभाग के जेई दौलतराम का कहना है कि उन्होंने कई जगहों गड्ढे खुदवाकर लीकेज खोजने की कोशिश करी है, लेकिन उन्हें अभी उस लीकेज का कहीं पता नहीं लग सका है। उन्होंने कहा कि जल्दी लीकेज पता चलते ही इस दूषित पेयजल आपूर्ति की समस्या को दूर किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।