गरीब वृद्ध के लिए फरिश्ता बनी हिमाचल हेल्पिंग हैंडज् संस्था
September 29th, 2019 | Post by :- | 103 Views

काँगडा [मुकेश सरमाल]
विकासखंड गगरेट के अंतर्गत आती पंचायत नकडोह ( केलाश नगर )तहसील धनारी ज़िला ऊना से एक निर्धन और दुखी चंचला देवी अपने जर्जर हुए मकान में रहने को मजबूर है । बता दे चंचला देवी के इलावा परिवार में और कोई सदस्य नहीं है जिनसे इनकी शादी हुई थी उसने बच्चे ना होने के कारण इस लाचार महिला को तलाक देकर दूसरी शादी कर ली अब इस वृद्ध हालत में अपना भरण-पोषण करने में असमर्थ है जर्जर हुए मकान में ना ही कोई शौचालय की सुविधा हैमकान की हालत बहुत ख़राब है ओर पता नहीं कब गिर कर इस महिला को काल का ग्रास बना दे

गरीब होने और जानकारी ना होने के कारण भी इस महिला ने सरकार और प्रशासन से कई बार गुहार लगाई लेकिन इनकी सुनने वाला कोई नहीं था और बस भगवान की आसरे दिन काटने को मजबूर थी यह महिला लेकिन एक कहावत है भगवान के घर देर है अंधेर नहीं वह किसी ना किसी को मदद के लिए देश भी देता है

जब इस बारे एक समाजसेवी संस्था को इनके दुख के बारे में पता लगा तो वे तुरंत इनकी सहायता के लिए आगे आए हिमाचल हेल्पिंग हैंड्ज़ संस्था की मुहीम के द्वारा तहसीलदार जी के माध्यम से वृद्ध महिला को एक कमरे के लिए 50000 रुपए की स्वीकृती मिल गई है जल्द ही कमरे का काम शुरू हो जाएगा इसके इलावा

हिमाचल हेल्पिंग हैंड्ज़ संस्था के अध्यक्ष नीरज ठाकूर ने वृद्ध महिला के लिए बेड , गदा , कम्बल , चादर , रजायी , पंखा इत्यादि अन्य राहत सामग्री घर देकर आए । इसमें मुख्य रूप से संस्था के संस्थापक नीरज ठाकुर , उपाध्यक्ष मोहित शर्मा , सचिव अनीश शर्मा , कोषाध्यक्ष मोहमद असलम , सदस्य अमन जसवाल , रिशव कहोल , विवेक , सलमान इत्यादि उपस्तिथ रहे

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।