कोका कोला ने स्वच्छता एवं कूड़ा प्रबंधन को बढ़ावा देने के लिए गतिविधियों का किया आयोजन ।
September 29th, 2019 | Post by :- | 165 Views

कोका-कोला ने स्वच्छता एवं कूड़ा प्रबंधन को बढ़ावा देने के लिये कई गतिविधियों का किया आयोजन ।

जंडियाला गुरु, कुलजीत सिंह
कोका-कोला इंडिया और उसके बॉटलिंग पार्टनर्स ने अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन के साथ मिलकर जीएसएसएस तारागढ़ जिला अमृतसर में ‘स्वच्छता ही सेवा’ को बढ़ावा देने के लिये गतिविधियाँ का आयोजन किया ताकि विद्यार्थियों को स्वच्छता और अपशिष्ट प्रबंधन के महत्व पर जागरूक किया जा सके। यह विश्व को कचरा मुक्त बनाने के कंपनी के लक्ष्य के अनुसार भी है। इसका मुख्य उद्देश्य है स्वच्छ वातावरण के महत्व पर जागरूकता उत्पन्न करना और अपशिष्ट प्रबंधन के प्रभावी समाधानों को बढ़ावा देना रहा।
नीचे उन गतिविधियों की सूची दी गई हैः संकल्प लेना – प्रत्येक प्रधानाध्यापक और विद्यार्थी ने स्वच्छता पर जागरूकता निर्मित करने, कचरे का उचित स्थान पर गिराना पृथक्करण सुनिश्चित करने और देश को स्वच्छ बनाने के लिये श्रमदान करने का संकल्प लिया।• दीवारों पर चित्रकारीः इस गतिविधि में स्वयंसेवियों ने दीवारों पर चित्रकारी की, जिसकी थीम थी, स्वच्छ स्कूल, स्वच्छ भारत।
• जागरूकता रैली और नुक्कड़ नाटकः कोका-कोला और एआईएफ के स्वयंसेवी स्कूलों और समुदायों में गये और स्वच्छता के महत्व पर जागरूकता फैलाई।
• स्कूल में सामुदायिक स्वच्छताः इस गतिविधि में स्वयंसेवी, स्कूलों के बच्चे और सामुदायिक सदस्य पीईटीटी और प्लास्टिक कचरे को एकत्र किया जिसको रीसाइकलर को सौंपा जायेगा।

इस संलग्नता के बारे में अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन के कंट्री डायरेक्टर मैथ्यू जोसेफ ने कहा, ‘‘एआईएफ का डिजिटल इक्वैलाइज़र प्रोग्राम देश में संसाधनों के अभाव वाले सरकारी स्कूलों के लिये काम करता है और विद्यार्थियों को स्वच्छ वातावरण के महत्व पर जागरूक करता है। ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान एक अच्छी पहल है, जो स्कूलों के बच्चों और लोगों के बीच स्वच्छता का संदेश फैलाती है, इसका संचालन स्वयंसेवियों द्वारा कर्मचारी संलग्नता गतिविधियों के माध्यम से किया जाता है।’’श्री इश्तियाक अमजद, वाइस-प्रेसिडेन्ट, पब्लिक अफेयर्स, कम्युनिकेशंस एवं सस्टेनेबिलिटी, कोका-कोला इंडिया एवं साउथ वेस्ट एशिया ने इस पहल पर टिप्पिणी करते हुए कहा, ‘‘स्व्च्छाता अनुशासन का एक महत्विपूर्ण स्वरूप है और जिंदगी में सभी को इसका पालन करना चाहिए। भारत में कचरा परिदृश्यन को देखते हुए, स्वस्थ जीवनशैली के हिस्सेा के तौर पर स्वच्छता एवं कचरा प्रबंधन को पहले से कहीं अधिक प्रोत्साहित करना महत्ववपूर्ण हो गया है। इसी के अनुरूप, कोका-कोला कंपनी का एक व्यापक लक्ष्य् है – “कचरा मुक्त दुनिया” का निर्माण करना। एशिया के सबसे बड़े पैकेजिंग वेस्ट मैनेजमेंट वेंचर की पेशकश करने की हमारी हालिया भागीदारी कचरा निस्तारण को लेकर बढ़ रही चिंताओं की प्रतिक्रिया स्व‍रूप की गई है। कोका-कोला इंडिया में हम सौभाग्यशाली महसूस करते हैं कि “स्वहच्छता ही सेवा” को सफल बनाने में मदद कर पा रहे हैं और हम सभी लोगों से एक स्च्छ, हरित और कचरा-मुक्त भारत का निर्माण करने में उल्लेखनीय भूमिका निभाने की अपील करते हैं।’’

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।