खुद के अपहरण का षडयंत्र रचकर 50 लाख रूपये की रंगदारी मांगने के मामले मे सभी आरोपी गिरफतार।
September 28th, 2019 | Post by :- | 234 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :-  सुरेश कुमार उप-पुलिस अधीक्षक सदर पलवल ने आज प्रैस वार्ता को सम्बोधित करते हुए बतलाया कि दिनांक 23.09.19 को गाँव मान्दकौल निवासी चमन प्रकाश ने चौकी बघौला मे शिकायत दर्ज कराई कि दिनांक 21.09.19 को उसका लड़का जतीन अपने ही गांव के पवन पुत्र बिजेन्द्र व अमित पुत्र सोमदत के साथ गांव मे आखरी बार देखा गया था। जो तीनो उसी दिन से लापता है। जिस पर कार्यवाही करते हुए बघौला चौकी पुलिस के द्वारा मुकदमा दर्ज किया गया।

दिनांक 25.09.19 को शिकायतकर्ता ने उच्च अधिकारियो को अवगत कराया कि उसके पास लडके को छोडने के लिये 50 लाख रूप्यें की फिरौती की मांग फोन द्वारा की गई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक पलवल के निर्देशानुसार सीआईए पलवल व साईबर सैल को भी जिम्मेवारी सौपी गई। दिनांक 27.09.19 को गुप्त सूचना व साईबर की ईमदाद के आधार पर सीआईए पलवल की टीम ने गुमशुदा लडके जतीन, हरिओम व पवन कुमार को उनके साथी ईशान्त के साथ मिलन होटल के पास फरीदाबाद से काबू किया। पुछताछ के दौरान पता चला कि जतीन ने अपने इन सभी साथियो के साथ मिलकर अपने अपहरण व फिरौती की योजना बनाई। जिसके तहत उन्होने सारी कार्यवाही को अंजाम दिया।

फिरौती के लिये उन्होने जतीन के पिता वह भाई को दिनांक 22.09.19 से लेकर लगातार दिनांक 27.09.19 तक दिन मे कई-कई बार फोन किया। जतीन ने इसका कारण बतलाया कि उसका पिताजी उसको घर से बाहर नही जाने देता था और ना ही जेब खर्च के लिये पैसे देता था। जतिन मोबाइल फोन की दुकान खोलना चाहता था। जिसके कारण उसने अपने साथियो के साथ मिलकर यह योजना बनाई थी। दिनांक 21.09.19 को जतीन अपने साथियो के साथ पहले तो कोकिलावन गयें उसके बाद दिनांक 22.09.19 से लगातार फरीदाबाद मे ईशान्त के घर व उसकी गाडी मे अलग-अलग पार्को व सुनशान जगह पर ठहरें। सभी आरोपीयो को आज अदालत में पेश करके वारदात मे प्रयोग किये गये मोबाईल फोन, गाडी व उन स्थानो की निशानेदई जहां पर आरोपी रूके थें, के लिये दो दिन के पुलिस रिमान्ड पर लिया गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।