धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र की भूमि पूरी दुनिया में सबसे पवित्र धरा:दत्तात्रेय
December 15th, 2021 | Post by :- | 63 Views
कुरुक्षेत्र,  ( ऋषि राणा )       ।       हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र की भूमि पूरी दुनिया में सबसे पवित्र धरा है। इस धरा के चरण स्पर्श करने मात्र से मनुष्य पवित्र हो जाता है। इस धर्मस्थली का विश्व में अपना एक महत्व है। इसी भूमि पर भगवान श्रीकृष्ण ने 5158 वर्ष पूर्व गीता के उपदेश दिए थे, जो आज भी पूरी तरह प्रासंगिक है।
राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय गत्त देर सायं गीता ज्ञान संस्थानम में जीओ गीता संग्रहालय का अवलोकन करने के दौरान अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इससे पहले राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय, केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डïी, सांसद नायब सिंह सैनी, विधायक सुभाष सुधा ने गीता ज्ञान संस्थानम में गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद के विशेष प्रयासों से बनाए गए जीओ गीता संग्रहालय का अवलोकन किया। इस संग्रहालय में भगवान श्रीकृष्ण के विराट स्वरुप, स्वतंत्रता सैनानियों का गीता प्रेम सहित कक्षों का बारीकि से अवलोकन किया। यहां पर गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद ने राज्यपाल व केन्द्रीय पर्यटन मंत्री को पवित्र ग्रंथ गीता प्रेरणा भेंट की।
राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव का सफल आयोजन किया गया। इस महोत्सव को सफल बनाने के लिए सबसे अहम भूमिका गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद की रही है। गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद के प्रयासों से ही पवित्र ग्रंथ गीता जन-जन तक पहुंच रही है और देश के साथ-साथ पूरी दुनिया में अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव की पहचान बनी है। इस महोत्सव के सरकार की तरफ से एक बड़ा स्वरूप भी बनाया जा रहा है।
केन्द्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डïी ने कहा कि अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव को देखने का पहली बार अवसर मिला है। यह महोत्सव अपने आप में एक अदभुत पर्व है। इसके साथ ही गीता जन्म स्थली ज्योतिसर को भी देख कर एक सुखद अहसास हुआ है। इस धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र की पवित्रता पूरे विश्व में प्रसिद्घ है। सरकार की तरफ से कुरुक्षेत्र को श्रीकृष्णा सर्किट में शामिल किया गया है। अभी तो कृष्ण सर्किट के तहत विकास करने की केवल शुरुआत हुई, अभी तो ओर अधिक विकास कार्य सरकार की तरफ से किया जाएगा।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review